मुख्य सामग्री पर जाएं   पाठ का आकार बढ़ाएँ सहज दृश्य पाठ का आकार घटाएँ  English   संपर्क करें   प्रतिक्रिया   साइटमैप   कैरियर           
मुख्य पृष्ठ        हमे जाने        ऊष्मायन सुविधा        वैधानिक सेवाएँ        सॅाफ्टनेट सेवाएँ        पी.एम.सी. सेवाएँ        निविदाएं

हमे जाने

इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन, सोसाइटी विनियमन अधिनियम 1860 के तहत 5 जून 1991 को सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क् स ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) की स्थापना और एक स्वायत्त सोसाइटी के रूप में पंजीकृत हुआ।

उद्देश्य
भारत की बढ़ती ताकत और क्षमताओं को यह विश्वास था कि,भारतीय आईटी उद्योग भविष्य में विश्व को एक महान आर्थिक विकास प्रदान करेगा.भारत सरकार ने 1986 में " सॉफ्टवेयर निर्यात, सॉफ्टवेयर विकास और सेवाओं और प्रशिक्षण" नीति को क्षेत्र के रूप में लागू करने के लिए|सरकार ने सॉफ्टवेयर उद्योग के विकास में,सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क योजना के निर्माण के लिए, नेतृत्व के लिए और प्रोत्साहित करने के लिए देश से सॉफ्टवेयर का निर्यात बढ़ाया है|

भारतीय सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क का उद्देश्य देश में विभिन्न स्थानों पर सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क की स्थापना निम्नलिखित को प्राप्त करने के लिए है:
• इस पार्क में बुनियादी सुविधाए जैसे संचार सुविधा, मुख्य कंप्यूटर, बिल्डिंग आदि स्थापित करना और उसका प्रबंधन करना और उपयोगकर्ताओं के निर्यात के प्रयोजनों के लिए डेटा संचार लिंक के माध्यम से सॉफ़्टवेयर विकास और सेवाओं को शुरू करने के लिए सेवाएं प्रदान करना है।
• सॉफ्टवेयर के निर्यात और सेवाओं के विकास को बढ़ावा देना
• तकनीक के मूल्यांकन, बाजार विश्लेषण, बाजार विभाजन आदि के रूप में निर्यात संवर्धन गतिविधियों को शुरू करना
• सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में पेशेवरों को प्रशिक्षित करना

© 2015 एस.टी.पी.आई.-गांधीनगर। सभी अधिकार सुरक्षित।     गोपनीयता नीति | अस्वीकृति | उपयोग की शर्तें | सहायता
पृष्ठ अंतिम बार जुलाई 27, 2016 को अपडेट किया गया।
वेबसाइट एसटीपीआई-गांधीनगर के स्वामित्व में संचालित है।