मुख्य सामग्री पर जाएं   पाठ का आकार बढ़ाएँ सहज दृश्य पाठ का आकार घटाएँ  English   संपर्क करें   प्रतिक्रिया   साइटमैप   कैरियर           
मुख्य पृष्ठ        हमे जाने        ऊष्मायन सुविधा        वैधानिक सेवाएँ        सॅाफ्टनेट सेवाएँ        पी.एम.सी. सेवाएँ        निविदाएं

बाहरी लिंक: भारत का राष्ट्रीय पोर्टल नए विंडो में खुलेगा

बहुधा पूछे गए प्रश्न

1.एसटीपी योजना क्या है?
उत्तरः सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क (एसटीपी) योजना के सॉफ्टवेयर के विकास के शुरू करने के लिए आईटी उद्योग के लिए सुविधाएं प्रदान करने के लिए है और यह 100% निर्यात के लिए आईटी समर्थित सेवाओं के पेशेवर सेवाओं के निर्यात सहित शारीरिक निर्यात के रूप में डेटा संचार लिंक के प्रयोग से. व्यक्तिगत इकाइयों को भी घरेलू भारतीय (में कारोबार कर सकता है की अनुमति दी जा सकता है) बाजार में निर्यात के 50% तक. एसटीपी इकाइयों भी व्यावसायिक प्रशिक्षण का कार्य कर सकते हैं. एसटीपी इकाइयों को भी लाइसेंस के माध्यम से आईटी विनियमित व्यापार, ग्राहक और सरकार के अधिकारियों और एजेंसियों के बीच एक कड़ी के रूप में कार्य. इस योजना के तहत, आईटी उद्योगों शुल्क, लेवी और करों में कुछ छूट प्रदान की जाती हैं.

2.एक एसटीपी के सदस्य और कैसे कौन बन सकता है?
उत्तरः एक एसटीपी सदस्य बनने के बाद कर सकते हैं:
  • एक भारतीय कंपनी
  • विदेशी कंपनी की एक सहायक
  • विदेशी कंपनी की एक शाखा कार्यालय
  • आदेश में एसटीपी योजना के तहत एक प्रमाणित सदस्य इकाई, सक्षम प्राधिकारी के अनुमोदन यानी निदेशक बनने के लिए, एसटीपीआई की आवश्यकता है. निम्नलिखित दस्तावेजों की मंजूरी प्राप्त करने के लिए आवश्यक हैं:
  • निर्यात बाध्यता
  • तीनप्रतियाँ में आवेदन
  • परियोजना रिपोर्ट
  • बोर्ड के प्रस्ताव
  • ज्ञापन या एसोसिएशन के लेख
  • निर्यात आदेश / अनुबंध या समझौता ज्ञापन
  • निदेशकों की सूची
  • आयातक - निर्यातक कोड संख्या
  • एसटीपी स्थान परिसर का सबूत (जैसे छोड़ दो और लाइसेंस)
  • मान्य डेटा संचार सबूत (सेवा स्वीकृति पत्र भुगतान की रसीद उदाहरण के लिए)
  • बैंक प्रमाणपत्र
  • बाद अनुमोदन प्रक्रिया, एसटीपी इकाई के लिए एसटीपीआई के तहत निर्यात बाध्यता समझौते पर हस्ताक्षर और संबंधों में अपने कार्यालय क्षेत्र के लिए धारा 58 तथा सीमा शुल्क अधिनियम 1962 के तहत 65 सीमा शुल्क के सहायक आयुक्त दृष्टिकोण है.

3.निवेश मानदंड क्या है?
उत्तरः केवल रुपये की एक न्यूनतम निवेश करने परियोजनाओं. संयंत्र में 1 करोड़ रुपए और मशीनरी योजना के तहत ईओयू के रूप में स्थापना के लिए विचार किया जाएगा.

4.हम एसटीपी की मंजूरी के बाद हमारी कंपनी का नाम बदल सकते हैं?
उत्तरः हाँ, कम्पनी का नाम परिवर्तन संभव है एसटीपी की मंजूरी के बाद. कंपनियों के रजिस्ट्रार से प्रमाणपत्र के लिए एसटीपीआई कार्यालय को प्रस्तुत की जरूरत है.

5.IPLC क्या है?
उत्तरः एक IPLC (अंतरराष्ट्रीय निजी पट्टे पर सर्किट) एक मुद्दा यह है करने वाली बात एक निजी संगठन द्वारा इस्तेमाल के लिए कार्यालयों के बीच संवाद है कि भौगोलिक दृष्टि से दुनिया भर में बिखरे हैं लाइन. अंतरराष्ट्रीय निजी पट्टे पर सर्किट (IPLC) बुनियादी अंतर्राष्ट्रीय संचार के लिए ब्लॉकों का निर्माण कर रहे हैं, वैश्विक संचार नेटवर्क के लिए कच्चे बैंडविड्थ उपलब्ध कराने के. ये बिंदु-बिंदु निजी लाइन सेवाओं के ग्राहक के अनन्य उपयोग के लिए समर्पित की गुणवत्ता विश्वसनीय डिजिटल प्रसारण प्रदान मूल डेटा, आवाज और इमेजिंग सेवाओं को एकीकृत कर रहे हैं. आवेदन के एक विभिन्न प्रकार के द्वारा समर्थित हैं इंटरनेट का उपयोग, के लिए लैन-सहित IPLC-लैन कनेक्टिविटी, टेलीमेडिसिन, वीडियो और teleconferencing.

6.एक एसटीपी इकाई बनने का फायदा क्या है?
उत्तरः एसटीपी लाभ योजना के त हत निम्न में से एसटीपी इकाइयों के लाभ ले सकते हैं:
  • कस्टम शुल्क में छूट
  • उत्पाद शुल्क में छूट
  • केन्द्रीय बिक्री कर प्रतिपूर्ति
  • एसटीपी इकाइयों को कॉर्पोरेट आय कर से 2010 तक छूट दी गई है
  • घरेलू टैरिफ क्षेत्र (डीटीए) में निर्यात के एफओबी मूल्य के 50% तक की बिक्री की अनुमति

7.हम अनुमोदन के बाद हमारे एसटीपी स्थान बदल सकते हैं?
उत्तरः हाँ.

8.अगर इकाई या इतना वर्ष के लिए कोशिश कर बाद को सफल असमर्थ है क्या होता है?
उत्तरः यूनिट के लिए समय के किसी भी क्षण में एसटीपी सदस्य आयातित और देशी उपकरणों और विदेश व्यापार के लिए गैर विनियामक अधिनियम 1992 के तहत उचित प्राधिकारी-अनुमोदन की शर्तों को पूरा द्वारा लगाया गया जुर्माना पर सीमा शुल्क और उत्पाद शुल्क के भुगतान के अधीन हो संघर्ष कर सकते हैं .

9.क्या यह अनिवार्य भारत में पंजीकृत कंपनी पाने के लिए?
उत्तरः हाँ, यह कंपनी के तहत कंपनियों के रजिस्ट्रार के साथ भारत में पंजीकृत कंपनी के लिए अनिवार्य है अधिनियम 1956.

© 2015 एस.टी.पी.आई.-गांधीनगर। सभी अधिकार सुरक्षित।     गोपनीयता नीति | अस्वीकृति | उपयोग की शर्तें | सहायता
पृष्ठ अंतिम बार फ़रवरी 19, 2015 को अपडेट किया गया।
वेबसाइट एसटीपीआई-गांधीनगर के स्वामित्व में संचालित है।